गाँधी जी खड़े बाज़ार में / अमरेन्द्र कुमार

Gadya Kosh से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


गाँधीजी खड़े बाज़ार में
Gandhi.jpg
रचनाकार अमरेन्द्र कुमार
प्रकाशक मेघा बुक्स, एक्स ११, नवीन शहादरा, दिल्ली 1100३२
वर्ष 2008
भाषा हिन्दी
विषय
विधा कहानी संग्रह
पृष्ठ 128
ISBN
विविध
इस पन्ने पर दी गई रचनाओं को विश्व भर के स्वयंसेवी योगदानकर्ताओं ने भिन्न-भिन्न स्रोतों का प्रयोग कर गद्य कोश में संकलित किया है। ऊपर दी गई प्रकाशक संबंधी जानकारी छपी हुई पुस्तक खरीदने हेतु आपकी सहायता के लिये दी गई है।

अपनी बात

समीक्षा

गाँधी जी खड़े बाज़ार में

पहला सबक

एक अरसे के बाद

तलाश

एक दिन सुबह

मोती बनाम मुक्तेश्वर

आने वाले कल के लिये

एक अरसे के बाद